• तकनीकी परामर्श सेवाएं

    आईटी और तकनीकी सिस्टम, एएमआई और स्मार्ट मीटरिंग सिस्टम, बिजली प्रबंधन, एससीएडीए और ऑटोमेशन, स्मार्ट ग्रिड, क्षति में कमी, नेटवर्क योजना, सिस्टम सुधार और सोलर रूफटॉप के कार्यान्वयन के लिए तकनीकी परामर्श सेवाएं

    टाटा पावर-डीडीएल ने 'सिस्टम इंटीग्रेटर' की अपनी सेवाएं तकनीकी परियोजनाओं के कई ग्राहकों कों दी है। टाटा पावर-डीडीएल के पास ऐसी परियोजनाओं में विचार से लेकर शुरुआत तक की विशेषज्ञता है। इन परियोजनाओं में एक एडवांस्ड मीटरिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर या एएमआई है, जो स्मार्ट उपयोगिता का प्रमुख घटक है। बिजली वितरण बाजार में एक प्रमुख लोकप्रिय शिफ्टर के तौर पर, एएमआई बेहतर निगरानी और प्रदर्शन की सुविधा दे रहा है, जिसके नतीजे मीटरों वाला टू वे कम्युनिकेशन, बेहतर डेटा पोलिंग फ्रीक्वेंसी और छेड़छाड़ करने पर तुरंत मिलने वाली चेतावनियां हैं।

    टाटा पावर-डीडीएल द्वारा दी गई कुछ सेवाएं इस प्रकार हैं:

    स्मार्ट ग्रिड, एएमआई और स्मार्ट मीटरिंग सिस्टम
    • डिस्कॉम के लिए स्मार्ट मीटर लगाना और प्रबंधित करना
    • स्मार्ट ग्रिड रोल आउट के लिए कम्युनिकेशन सिस्टम प्रबंधन
    • एससीएडीए, जीआईएस इंटीग्रेशन जैसी अन्य तकनीकी सेवाओं के लिए सिस्टम इंटीग्रेटर
    • आईटी तकनीक का चयन और आईटी-ओटी तकनीक की ओर झुकाव प्राप्त करने स्मार्ट उपयोगिता के लिए आगामी रोडमैप का निर्माण
    एससीएडीए, ओएमएस, जीआईएस, आईटी
    • अध्ययन, तकनीकी व्यवहार्यता अध्ययन और विस्तृत परियोजना रिपोर्ट की तैयारी को पूरा करना
    • मौजूदा नेटवर्क की समीक्षा की जा रही है और आरटीयू लगाना
    • उपयोगिता को देखते हुए, आईटी कार्यान्वयन और मूल्यांकन के लिए कार्य का दायरे पर निर्णय लेने में उपयोगिता के लिए सहायता देना
    • उपकरणों की खरीद के लिए तकनीकी विनिर्देशन का निर्माण करना
    • कार्यक्रम प्रबंधन, जिसमें सेवा मिल जाने तक परियोजना टेस्टिंग और शुरुआत करने का काम शामिल है
    • परियोजना के विचार से लेकर शुरुआत तक कार्यान्वयन के लिए उपयोगिता का काम संभालना
    • डिस्कॉम कर्मचारियों को साइट पर और क्लासरूम में ट्रेनिंग देना